बिहार में हिंदू पुत्र संगठन की गरीबों के बीच अच्छी पहल

 आज हम बात करने जा रहे हैं बिहार में पिछले वर्ष बनी एक ऐसी संगठन के बारे में जो कि गरीबों के बीच अच्छी पहल कर रहे है। बिहार में एक संगठन है ...


 आज हम बात करने जा रहे हैं बिहार में पिछले वर्ष बनी एक ऐसी संगठन के बारे में जो कि गरीबों के बीच अच्छी पहल कर रहे है।


बिहार में एक संगठन है जिसका नाम हिंदू पुत्र संगठन के नाम से जाना जाता है।
 ऐसे तो कहने के लिए यह हिंदू पुत्र संगठन हिंदुओं के हित में काम करती है ,लेकिन इनके कार्यशैली से यह पता लगता है कि यह मानवता के लिए काम करती है और जिन हिंदू भाई-बहन अपने पथ से भटक गए हो, चाहे किसी के अत्याचार का सहन करते हो तो उनकी मदद करती है हिंदू पुत्र संगठन विभिन्न कार्य का निर्वहन करते हुए हिंदू पुत्र संगठन का संगठन विस्तार पूरे बिहार भर में धीरे-धीरे लगभग हो चुका है और अब इनकी सोच यह है कि पूरे भारतवर्ष में हिंदू पुत्र संगठन का परचम लहरे।

हिंदू धर्म में कुछ जाति के आधार पर बटे हुए लोगों को भी एक करना संगठन के कार्य में ही आता है ,क्योंकि इधर हिंदू बटे- जा रहे हैं और कटते जा रहे हैं ,तो इनका एक यह भी मकसद है अपने सनातन धर्म के हित में कार्य करना।


हिंदू पुत्र संगठन के कुछ नेक कार्य गरीबों के बीच:
हिंदू पुत्र संगठन विभिन्न जगहों पर शनिवार के शनिवार सप्ताहिक भंडारा कराती है जिसमें कि गरीब भाई बहन छोटे-छोटे बच्चे और भूखे लोगों को खाना देना मुख्य मकसद होता है। जिससे कि उन गरीब बच्चों को यह लगे कि उनके साथ कोई समाज में भेदभाव नहीं है गरीब के नाम पर यह एहसास करवाती हिंदू पुत्र संगठन।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मयंक सिंह, दीपक सिंह और पटना जिला के अध्यक्ष नागेश सम्राट के देखरेख में यह सप्ताहिक भंडारा होता है। जिसमें कि संगठन के अनेक कार्यकर्ता जुटते हैं और यह नेक कार्य को सफल बनाते हैं।


संगठन का कार्य भी जोरों से चल रहा है और अब वक्त बताएगा कि आगे चलकर यह कितना लाभदायक होता है।


संपादक: आशुतोष उपाध्याय

INSTALL OUR APP FOR 60 WORDS NEWS