Hello, Welcome To BharatIdea, An Idea To Make Our Country Vishwa-Guru


...
Search Of Useful Contents

test

test

...
Editing And Coding

Test.

Test.

...
Publish On Social Media

Test.

Test.

...
...
...
...
...

नमस्कार दोस्तों आप सब का स्वागत है आपके अपने समाचार स्त्रोत BharatIdea में। आपके मन में ये सवाल जरूर उठ रहा होगा की आखिर BharatIdea किन विषयो पर समाचार देता है, और क्यूँ देता है। तो आइये जानते है भारत आईडिया के मूल सिधान्तो और इसको बनाने के पीछे कारणों को?

BharatIdea बनाने की जरुरत क्यूँ परी:
दोस्तों समय के साथ अगर हम देखे तो हमारे राष्ट्र ने काफी अक्रान्ताओ के आक्रमण को झेला है। इतने हमलो के बाद भी हमने चिंतन नहीं किया और आज ऐसा वक़्त आ गया है की हम अपनी संस्कृति को छोर पश्चिमी संस्कृति को अपना रहे है।BharatIdea के शोध के अनुसार भारत में जितने भी लोग रहते है उनमे से मात्र ऐसे 10% लोग ही ऐसे है जिनको अपने देश की संस्कृति तथा राजनीती से मतलब है और बाकियों का ये मानना है की देश बरसो से चला आ रहा है और आगे भी चलता ही रहेगा। वो लोग जो सोचते है की भारत वर्ष वर्षो से चला आ रहा है और आगे भी चलता ही रहेगा तो मै उनके लिए कुछ पंक्तिया कहना चाहूंगा,

हमने पूछा इस देश का क्या होगा, वो बोले देश तो बर्षो से चल रहा और आगे भी चलता रहेगा, कल आपको ढूंढना पड़ेगा की देश कहाँ है और वो कहेंगे ढूंढते रहिये देश तो हमारी जेब में परा है क्या देश हमारी जेब से बरा है।

BharatIdea इन्ही कारणों से निकला एक गुस्से और बगावत का नतीजा है।BharatIdea की बस एक ही इक्षा और ख्वाहिस है की इस देश का युवा वर्ग अपने देश के उज्वल भविष्य के लिए काम करे ना की खुद के स्वार्थ के लिए।देश का युवा एक ही शर्त पर अपने देश हित के लिए काम कर पायेगा जब उसको अपने देश की संस्कृति और राजनीती की समझ हो अन्यथा नेता युवाओ को बेवकूफ बना कर इस देश की संस्कृति का नास करते रहेंगे और आपस में सब को लड़वाते रहेंगे जिससे उनका फायदा हो न की देश के भविष्य का। आपकी राजनीती और संस्कृति समझ को बढ़ाने में BharatIdea आपकी पूरी मदद करेगा अपने लेखो के द्वारा ताकि आप अपना एक महत्वपूर्ण योगदान दे सके देश के उज्जवल भविष्य के लिए।

BharatIdea का लक्ष्य क्या है:
BharatIdea का सिर्फ और सिर्फ एक ही लक्ष्य है, AN IDEA TO MAKE OUR COUNTRY VISHWA-GURU, हयात लेके चलो, कायनात लेके चलो...चलो तो ऐसे चलो की देश को विश्व गुरु बनाने की राह पर चलो। भारत आईडिया किस प्रकार के समाचार प्रकशित किये जाते है। BharatIdea आपको हर तरह की समाचार देगा जैसे की :
राजनीती से जुड़ी खबरे।
झूठी खबरों की सच्चाई बताना।
इतिहास से जुड़ी खबरे।
महापुरषो की जीवनी के बारे में चर्चा।
सेना से जुड़ी खबरे।
खेल से जुडी खबरे।
विज्ञान से जुड़ी खबरे।
अजब गजब तथ्यों से जुड़ी खबरे।
अंतरष्ट्रीय खबर।
संगठन से जुड़ी खबरे
जमीनी स्तर की खबरों की जानकारी देना।

BharatIdea की खबरों से आप क्या सिख सकते है :
जैसा की ऊपर आप पढ़ चुके है की BharatIdea एक ऐसा समाचार का स्त्रोत है जहाँ आप अपनी जानकारियों को मजबूत कर सकते है। जो लोग अपनी संस्कृति को समय के आभाव में या राजनीती समझ को मजबूत नहीं कर पा रहे है वो लोग BharatIdea पर अपनी इन कमजोरियों को दूर कर अपने देश को पूर्ण रूप से जान और समझ सकते है तथा समाज में चौर होकर बोल सके की हाँ मै भी जानता हु अपने देश की संस्कृति को, राजनीती को और तो और आप भी सामजिक चर्चाओं में बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले सकते है।

BharatIdea की भविष्य की रणनीति क्या है :
ज्यादा से ज्यादा लोगो तक हर तरह की खबर पहुँचाना।
पॉकेट महाभारत का वितरण।
पॉकेट रामायण का वितरण।
पॉकेट अर्थशात्र का वितरण।
रोजगार पैदा करना।
पिछड़े तथा गरीबो के लिए काम करना।
स्वच्छ भारत के लिए जमीनी स्तर पर काम।
भारत की संस्कृति का पताका लहराना।
झूठी खबर का पर्दाफास करना।
भारतवर्ष को विश्व गुरु बनाने में योगदान देना।

Forest

Stay informed With Us


We understand you don’t have time to go through long news articles everyday. So we cut the clutter and deliver them, in 60-word shorts. Short news for the mobile generation.


Loading...

All Rights Reservd To BharatIdea

This is default featured slide 1 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 2 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 3 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 4 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 5 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

My Sticky Gadget

श्रीलंका ने 18 खिलाड़ियों को दिया पांच महीने का कॉन्ट्रैक्ट, एंजेलो मैथ्यूज को नहीं मिली जगह

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (SLC) ने अपने 18 खिलाड़ियों को पांच महीने का कॉन्ट्रैक्ट दिया है। 01 अगस्त से शुरु हुआ यह कॉन्ट्रैक्ट 31 दिसंबर, 2021 तक मान्य रहेगा। खिलाड़ियों का चुनाव चार कैटेगिरी में किया गया है। देश के दिग्गज ऑलराउंडर एंजेलो मैथ्यूज को इस कॉन्ट्रैक्ट में जगह नहीं मिली है। आपको बता दें कि मैथ्यूज फिलहाल ब्रेक पर हैं और वह टीम में चुने जाने के लिए उपलब्ध नहीं हैं।

पश्चिमी दिल्ली में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 2 मास्टरमाइंड समेत 65 गिरफ्तार।

पश्चिमी दिल्ली की साइबर सेल ने हरिनगर इलाके में चल रहे एक फर्जी कॉल सेंटर का खुलासा किया। पुलिस ने कॉल सेंटर से 65 आरोपियों को गिरफ्तार किया। आरोपी खुद को यूएस कस्टम और एफबीआई का अधिकारी बताकर ठगी को अंजाम देते थे। पुलिस ने सेंटर से 58 कम्प्यूटर, दो लैपटॉप, एक इंटरनेट राउटर, 11 मोबाइल फोन, चैटिंग स्क्रीप्ट, इंटरनेट कॉलिंग डायलर और अमेरिकन नागरिकों का डाटा बरामद किया है।

पाक रिपोर्टर ने लिया भैंस का इंटरव्यू, सोशल मीडिया पर उड़ रहा है अब मजाक

जैसा कि हम सब जानते हैं चांद नवाब से लेकर कई अन्य पत्रकारों के फनी क्लिप्स इंटरनेट पर वायरल होते रहे और फिर से एक बार ऐसा ही एक वीडियो पाकिस्तानी पत्रकार नायला इनायत ने 30 जुलाई को शेयर करते हुए लिखा कि अमीन हफीज (एक भैंस) के इस इंटरव्यू के बिना ईद का मजा अधूरा है। दरअसल आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वीडियो में अमीन एक भैंस का इंटरव्यू करते नजर आ रहे हैं और साथ ही साथ इससे पहले भी अमीन कई अतरंगी हरकतों के साथ कैमरे पर कैद होते रहे हैं।

दिल्ली के सराय काले खाँ में हरिजन बस्ती में घुस कर मुस्लिम भीड़ द्वारा दलितों के साथ मारपीट

दिल्ली के सराय काले खाँ में हरिजन बस्ती में घुस कर मुस्लिम भीड़ द्वारा दलितों के साथ मारपीट किए जाने के मामले में 4 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली के इस इलाके में सारा बवाल शनिवार (मार्च 20, 2021) को एक दलित युवक और एक मुस्लिम लड़की की शादी के बाद शुरू हुआ। पुलिस ने इस मामले में फरमान (20), शाहरुख़ (23), हसन अली (21) और राजा (19) को गिरफ्तार किया है।

राजस्थान: हथियारों से लैस 100 लोगों ने 38 महिलाओं और बच्चों को किया अपहरण, पढ़े रिपोर्ट

⚫ राजस्थान के झालवाड़ में हथियारों से लैस 100 लोगों द्वारा करीब 38 महिलाओं और बच्चों को अगवा किए जाे का मामला सामने आया है। 

⚫ इन सभी को पुलिस ने सुरक्षित मुक्त करा लिया है। 

⚫ राजस्थान पुलिस ने बुधवार को कहा कि झालवाड़ में उन्होर थाना क्षेत्र के बामन देवरियान गांव में करीब 100 लोगों ने 38 महिलाओं और बच्चों का अपहरण कर लिया था, जिन्हें रेस्क्यू कर लिया गया है।

⚫ अगवा किए जाने की अभी तक वजह साफ नहीं हुई है।




 

क्या एसपी ने : 

एसपी डॉ किरण कंग सिंधू ने कहा कि तलवार और अन्य हथियारों के साथ लगभग 100 लोग गांव में आए और महिलाओं और बच्चों का अपहरण कर लिया, हमें जानकारी मिली कि राजस्थान के झालवाड़ में उन्होर थाना क्षेत्र के बामन देवरियान गांव में करीब 100 लोग आए थे। वे मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के आलोट थाना क्षेत्र से बस और अन्य वाहनों में आए थे। उनके पास चाकू और तलवार समेत कई हथियार थे, जिसके दम पर उन्होंने बामन देवरियान गांव में महिलाओं और बच्चों का अपहरण कर लिया।


सिंधु के मुताबिक, इस सूचना के बाद पुलिस ने तुरंत एक्शन लिया और पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर 38 महिलाओं और बच्चों को बचाया। पुलिस ने छह लोगों को भी हिरासत में लिया।



ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


किसान ने किया ऐसा जुगाड़, बन रही बिजली, देख लोग बोले-क्या बात है

⚫ किसान ने बिजली पैदा करने के लिए जुगाड़ से वॉटरमिल बना डाली. जिसकी तस्वीर पोस्ट करते ही वायरल होने लगी.

⚫ पूर्व क्रिकेटर वी.वी.एस. लक्ष्मण ने ट्विटर पर कर्नाटक के किसान सिद्दप्पा की तस्वीर शेयर की है, जिन्होंने 'बिजली पैदा करने के लिए अपने घर के पास एक वॉटर मिल डिज़ाइन की है।

⚫ लक्ष्मण ने तस्वीर के साथ लिखा,उन्होंने (किसान) निर्माण पर महज़ ₹5,000 खर्च किए और नहर में पानी बहने पर उन्हें मिल से 150 वॉट बिजली मिलती है।


कैसी है लोगो की प्रतिक्रिया :

वायरल फोटो में दिखाई देता है कि किसान ने प्लास्टिक ट्यूब और लकड़ी का उपयोग करके एक वॉटरमिल बनाई है. इसे देखने से ही लगता है कि ये बेहद सस्ती, टिकाऊ है.इसे तैयार करने वाले किसान का नाम है सिदप्पा. इस वॉटरमिल की मदद से 150 वाट बिजली पैदा की जा सकती है.खबर के मुताबिक, सिदप्पा ने ये जुगाड़ लगाना तब शुरू किया जब हुबली इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी लिमिटेड ने उसे बिजली की आपूर्ति के लिए मना कर दिया था.


लोगों को सिदप्पा का ये प्रयास काफी पसंद आ रहा है. उन्होंने ट्विटर पर तारीफों के पुल बांधने शुरू कर दिए हैं. वे किसान के जज्बे को सलाम कर रहे हैं.



ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


ड्रोनाल्‍ड ट्रंप पर ट्विटर, FB, Instagram YouTube सभी ने लगाया बैन जाने कारण

⚫ ट्विटर ने उसकी सिविक इंटीग्रिटी पॉलिसी का 'बार-बार और गंभीर उल्लंघन' करने को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट 12 घंटे के लिए लॉक कर दिया।

⚫ बतौर ट्विटर, ट्रंप बुधवार को किए ट्वीट डिलीट नहीं करेंगे तो अकाउंट अनिश्चितकाल तक सस्पेंड रहेगा। 

⚫ फेसबुक और इंस्टाग्राम ने भी ट्रंप के पोस्ट करने पर 24 घंटे का प्रतिबंध लगाया है।



 

क्यूं लगाया गया बैन :

वॉशिंगटन में संसद की बिल्‍डिंग कैपिटोल में राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप समर्थकों और सुरक्षाकर्मियों के बीच हुई हिंसक झड़प के वाकये के बाद सोशल मीडया प्‍लेटफार्म ने उन पर सख्‍ती अपनाई है.अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव में धांधली संबंधी पोस्ट लगातार करने पर माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने एक कड़ा कदम उठाते हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अकाउंट पर बुधवार को 12 घंटे के लिए रोक लगा दी थी. इतना ही नहीं ट्विटर ने चेतावनी दी कि अगर भविष्य में ट्रंप ने नियमों का उल्लंघन किया तो उनके अकाउंट पर स्थायी रूप से रोक लगा दी जाएगी. 


वहीं फेसबुक और यूट्यूब ने उनके वीडियो को हटा दिया था. अब इसी घटनाक्रम के बाद सोशल मीडिया पर Facebook aur Instagram ने भी डोनाल्‍ड ट्रंप को किया लॉक करने की घोषणा कर दी है. ट्रंप पर ये बैन 24 घंटे के लिए लगाई गई है।



प्रदर्शनकारी इलेक्टोरल कॉलेज के नतीजों पर संसद के संयुक्त सत्र में व्यवधान डालना चाहते थे :

कैपिटोल परिसर में प्रदर्शनकारियों के घुसने के करीब दो घंटे बाद ट्रंप ने यह वीडियो पोस्ट किया था. प्रदर्शनकारी इलेक्टोरल कॉलेज के नतीजों पर संसद के संयुक्त सत्र में व्यवधान डालना चाहते थे. इस सत्र में नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन की जीत की पुष्टि होनी थी. फेसबुक के उपाध्यक्ष गॉय रोसेन ने बुधवार को कहा कि वीडियो को हटा दिया गया है ''क्योंकि इससे हिंसा और भड़क सकती है''.



ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


वाशिंगटन में इमरजेंसी, चार की मौत, ट्रम सोशल मीडिया पर बैन

⚫ अमेरिका के वाशिंगटन में गुरुवार तड़के (भारतीय समयानुसार) डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने जमकर बवाल किया. 

⚫ हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी सीनेट में घुसे, यहां कब्जे की कोशिश की और हंगामा किया. 

⚫ अभी वाशिंगटन में हिंसा थम गई है, कर्फ्यू भी लगा दिया गया है. 

⚫ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत दुनिया के कई बड़े नेताओं ने हिंसा की निंदा की है.





चार लोगों की मौत, वाशिंगटन में इमरजेंसी :

वाशिंगटन पुलिस के मुताबिक, गुरुवार को हुई इस हिंसा में कुल चार लोगों की मौत हो गई है. इनमें से एक महिला की मौत पुलिस की गोली से हुई है. जब पूरे इलाके को खाली करवाया गया तो ट्रंप समर्थकों के पास बंदूकों के अलावा अन्य खतरनाक चीजें भी मौजूद थीं. अमेरिका के वाशिंगटन में हिंसा के बाद पब्लिक इमरजेंसी लगा दी गई है. वाशिंगटन के मेयर के मुताबिक, इमरजेंसी को 15 दिन के लिए बढ़ाया गया है.



अमेरिका में लगी इस्तीफों की झड़ी...

अमेरिकी संसद में हुए बवाल का असर अब दिखने लगा है. बड़ी संख्या में लोगों ने इस हिंसा की निंदा की है. हिंसा को लेकर ही गुरुवार को कई लोगों ने अपने इस्तीफे दिए. ट्रंप प्रशासन में व्हाइट हाउस डिप्टी प्रेस सेक्रेटरी सारा मैथ्यू ने अपना पद त्याग दिया. इसके अलावा मेलानिया ट्रंप की चीफ ऑफ स्टाफ स्टेफनी ग्रीशन ने भी हिंसा के विरोध में पद से इस्तीफा दिया. अब अमेरिका में डोनाल्ड ट्रंप को तुरंत पद से हटाने की कोशिश हो रही है. उनके कार्यकाल में अभी दो हफ्ते बचे हैं, लेकिन करीब दो दर्जन से अधिक डेमोक्रेट्स सीनेटर फिर से महाभियोग लाने की तैयारी में हैं.



ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


महिला ने रतन टाटा की गाड़ी का नंबर अपनी गाड़ी पर लिखा; रत्न टाटा को भेजा गया ई-चलान

⚫ मुंबई पुलिस ने टाटा संस के मानद चेयरमैन रतन टाटा की गाड़ी का नंबर अपनी कार पर लिखने को लेकर एक महिला कारोबारी के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

⚫ महिला कारोबारी द्वारा किए गए ट्रैफिक नियम उल्लंघन के लिए टाटा को ई-चालान भेजा गया था। 

⚫ महिला ने न्यूमरोलॉजी कारणों से अपनी कार की नंबर प्लेट को बदला था।





क्या है मामला :

मुंबई के एक दिलचस्प मामला सामने आया है। मुंबई में एक महिला रतन टाटा की कार की नंबर प्लेट का इस्तेमाल कर अपनी कार चला रही थी। इस बात का खुलासा तब हुआ जब मुंबई पुलिस ने ट्रैफिक तोड़ने पर देश के बड़े उद्योगपति रतन टाटा के यहां चालान पहुंचा दिया। पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला अपनी कार पर रतन टाटा की कार की नंबर प्लेट इस्तेमाल कर रही थी। पुलिस के मुताबिक, महिला का कहना है कि उसे इस बात की जानकारी नहीं थी कि उसकी कार पर लगी नंबर प्लेट रतन टाटा की गाड़ी का ही नंबर है।



आरोपित महिला ने क्या कहा :

महिला ने पुलिस को बताया कि किसी ज्योतिष ने उन्हें अपनी कार के लिए विशेष नंबर प्लेट के इस्तेमाल की सलाह दी थी, इसलिए महिला उस नंबर प्लेट का इस्तेमाल कर रही थी। पुलिस ने बताया कि यह मामला रात का था और आरोपी महिला थी, इसलिए महिला को तुरंत थाने नहीं बुलाया गया। महिला को बुधवार को पूछताछ के लिए बुलाया गया और महिला की गिरफ्तारी की काफी उम्मीदें हैं। पुलिस ने आरोपी महिला के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 और 465 का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने बताया कि रतन टाटा पर ट्रैफिक उल्लंघन का जुर्माना लगाया गया था लेकिन उन्होंने कोई ट्रैफिक नियम नहीं तोड़ा था।



ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


कोर्ट ने माना ताहिर हुसैन और उमर ख़ालिद ने मिलकर रची थी दिल्ली हिंसा की साजिश

⚫दिल्ली की एक अदालत के अनुसार, प्रथम दृष्टया इस बात के पर्याप्त आधार हैं कि पूर्व जेएनयू छात्र उमर खालिद और निलंबित 'आप' पार्षद ताहिर हुसैन ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगों के दौरान मिलकर साज़िश रची थी। 

⚫दिल्ली की एक अदालत ने मंगलवार को कहा कि यह प्रदर्शित करने के लिए प्रथमदृष्टया उपयुक्त आधार हैं कि पूर्व छात्र नेता उमर खालिद, ताहिर हुसैन और अन्य ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों के दौरान षड्यंत्र रचे थे। अदालत ने मामले में पूरक आरोपपत्र का संज्ञान लेते हुए यह टिप्पणी की।

⚫बकौल मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट दिनेश कुमार, फरवरी में हुए दंगों से संबंधित मामले में खालिद के खिलाफ कार्रवाई के लिए पर्याप्त सामग्री है।



क्या कहा मैजिस्ट्रेट ने :

मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट दिनेश कुमार ने कहा कि पिछले वर्ष फरवरी में खजूरी खास इलाके में सांप्रदायिक हिंसा से जुड़े मामले में खालिद के खिलाफ कार्यवाही आगे बढ़ाने के लिए पर्याप्त सामग्री उपलब्ध है। अदालत ने कहा कि एक गवाह का बयान यह प्रदर्शित करने के लिए पर्याप्त है कि उस वक्त खालिद, ताहिर हुसैन के कथित संपर्क में था। हुसैन पर मुख्य षड्यंत्रकारी होने का आरोप है जिसने दंगे भड़काए और लोगों से लूटपाट करने तथा संपत्तियों को जलाने के लिए भीड़ को उकसाया।




किस आधार पर माना आरोपी :

अदालत ने कहा कि अभियोजन ने गवाह राहुल कसाना के बयानों का जिक्र किया है और उसने सीआरपीसी की धारा 161 (पुलिस द्वारा जांच) के तहत बयान दर्ज कराए हैं, जिसमें उसने कहा है कि उस वक्त वह हुसैन के वाहन चालक के रूप में काम कर रहा था। अदालत ने कहा कि उसके बयान के मुताबिक कसाना ने आरोपी हुसैन को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले लोगों और इसमें हिस्सा लेने वाले लोगों को कथित तौर पर पैसे बांटते देखा था।



200 से ज्यादा लोग मारे गए थे दंगे में :

अदालत ने जांच अधिकारी को निर्देश दिया कि संबंधित जेल अधीक्षक के माध्यम से पूरक आरोपपत्र की एक प्रति खालिद को दी जाए। संशोधित नागरिकता कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच पिछले वर्ष 24 फरवरी को उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा भड़क गई थी। इसमें 53 लोगों की मौत हो गई और करीब 200 व्यक्ति जख्मी हो गए थे।



ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


प्रणब की किताब में दावा- भारत में मिलना चाहता था नेपाल, किंतु नेहरू ने ठुकराया था प्रस्ताव

प्रणब मुखर्जी ने पंडित जवाहर लाल नेहरू को लेकर चौंकाने वाला दावा किया है। 

⚫प्रणब मुखर्जी ने दावा किया है कि नेहरू ने नेपाल को भारत में विलय करने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था। 

⚫पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अपनी बहुचर्चित ऑटोबायोग्राफी ‘द प्रेसिडेंशियल ईयर्स’ में दावा किया है कि पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने नेपाल के भारत में विलय करने के राजा त्रिभुवन बीर बिक्रम शाह के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था।

⚫उन्होंने यह भी कहा कि अगर उनकी जगह इंदिरा होतीं तो शायद ऐसा नहीं करतीं।




क्या लिखा प्रणब मुखर्जी ने :-

ऑटोबायोग्राफी ‘द प्रेसिडेंशियल ईयर्स’ के चैप्टर 11 'माई प्राइम मिनिस्टर्स: डिफरेंट स्टाइल्स, डिफरेंट टेम्परमेंट्स' शीर्षक के तहत प्रणब मुखर्जी ने लिखा है कि, 'नेहरू ने बहुत कूटनीतिक तरीके से नेपाल से निपटा। नेपाल में राणा शासन की जगह राजशाही के बाद हरू ने लोकतंत्र को मजबूत करने अहम भूमिका निभाई। दिलचस्प बात यह है कि नेपाल के राजा त्रिभुवन बीर बिक्रम शाह ने नेहरू को सुझाव दिया था कि नेपाल को भारत का एक प्रांत बनाया जाए। लेकिन नेहरू ने इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया।' उनका कहना है कि नेपाल एक स्वतंत्र राष्ट्र है और उसे ऐसा ही रहना चाहिए। वह आगे लिखते हैं कि अगर इंदिरा गांधी उनकी जगह होतीं, तो शायद वह अवसर का फायदा उठातीं, जैसा कि उन्होंने सिक्किम के साथ किया था।


ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


UP में सरकार लापरवाह : वाराणसी में साइकिल से कोरोना वैक्सीन लेकर पहुंचे अस्पताल

यूपी के सभी जिलों में प्रशिक्षित वैक्सीनेटर्स के माध्यम से कोविड वैक्सीन का ड्राई रन (मॉक ड्रिल) मंगलवार को शुरू हाे गया। इस दौरान वाराणसी में तैयारियों की पोल उस समय खुली जब कर्मचारी वैक्सीन को साइकिल पर लेकर अस्पताल पहुंचे। जहां पर वैक्सीन रखे जाने की बात कही जा रही है हालांकि वहां पुलिस की तैनाती जरूर की गई थी लेकिन वैक्सीन को अस्पताल तक पहुंचाने की पूरी तैयारी नहीं की गई। चौकाघाट कोरोना वैक्सीन केंद्र से वैक्सीन महिला अस्पताल साइकिल से पहुंचाई गई। वहीं महिला अस्पताल में जब वैक्सीन पहुंची तो वहां भी तैयारी नहीं थी। वैक्सीन आने के बाद वहां पर मेज आदि व्यवस्थित किए गए।




क्या कहा प्रशासन ने :-

साइकिल से वैक्सीन के बारे में पूछने पर वाराणसी के सीएमओ डॉ वीबी सिंह का कहना है पांच केंद्रों पर वैन से वैक्सीन गई है। केवल महिला अस्पताल में साइकिल  से वैक्सीन कैरियर लेकर आया है।  हर जिले में 6-6 स्थानों पर वैक्सीनेशन के लिए ड्राई रन आयोजित हो रहे हैं। ड्राई रन के दौरान किसी को भी कोई वैक्सीन नहीं लगाई जा रही है बल्कि केवल वैक्सीन लगाने का मॉक ड्रिल किया जा रहा है। इसके बाद बावजूद कई जिलों में अलग-अलग अव्यवस्था देखने को मिली।



वैक्सिन लगने की प्रक्रिया क्या है :

सभी जिलों में ड्राई रन मुख्य रूप से पांच चरणों में है। पहले चरण में वैक्सीन लगवाने वाले का आइडेंटिफिकेशन, उसके बाद उसके लिए वैक्सिन की वायल लगाने वाले स्वास्थ्यकर्मी को देना फिर वैक्सीन लगवाने वाले की आईडी लॉग इन करना और उसके बाद उन्हें वैक्सीन लगाना। वैक्सीनेशन के बाद वैक्सीन लगवाने वाले को एक वैक्सीनेशन कार्ड दिया जाएगा। इस कार्ड में जिस दिन वैक्सीनेशन हुआ, उस दिन का  विवरण और अगले 28वें दिन लगने वाली दूसरी डोज़ की तारीख अंकित होगी। वैक्सीनेशन के बाद प्रत्येक व्यक्ति को 30 मिनट तक ऑब्जरवेशन में रखा जाएगा।



ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे के दो दिन बाद गृह मंत्री अमित शाह का बयान आया है.

दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे के दो दिन बाद गृह मंत्री अमित शाह का बयान आया है. एक कार्यक्रम में अमित शाह ने कहा कि बहुत सारे दलों के लिए चुनाव सरकार बनाने और गिराने के लिए होते हैं. लेकिन भाजपा एक विचारधारा पर आधारित पार्टी है, हमारे लिए चुनाव हमारी विचारधारा को बढ़ाने का जरिया है. सिर्फ हार-जीत के लिए हम चुनाव नहीं लड़ते.


 

हार जित के लिए है, चुनाव नहीं लड़ते:-
विधानसभा चुनाव के नतीजे के दो दिन बाद गृह मंत्री अमित शाह का बयान आया है. एक कार्यक्रम में अमित शाह ने कहा कि बहुत सारे दलों के लिए चुनाव सरकार बनाने और गिराने के लिए होते हैं. लेकिन भाजपा एक विचारधारा पर आधारित पार्टी है, हमारे लिए चुनाव हमारी विचारधारा को बढ़ाने का जरिया है. सिर्फ हार-जीत के लिए हम चुनाव नहीं लड़ते.



सबको अपनी राय रखने का हक:-
गृह मंत्री शाह ने कहा कि चुनाव में गोली मारने का बयान उचित नहीं था तो राहुल गांधी के डंडे मारने वाला बयान भी ठीक नहीं था. मुद्दा आज भी ये है कि किसी का विरोध किस प्रकार से और किस चीज के लिए होना चाहिए. उन्होंने कहा कि जिस तरह से शाहीन बाग का समर्थन करने वालों को अपने विचार रखने का अधिकार है. उसी प्रकार से हमें भी हमारे विचार व्यक्त करने का अधिकार है और हमने वो किया.



यहां पोस्ट देखे :-
मंत्री ने कहा कि हमारा मन शुद्ध है और हम शुद्ध मन से काम करते हैं. हमने कभी भी धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं किया है. मैं आज भी देश को बताना चाहता हूं कि CAA में ऐसा कोई भी प्रावधान नहीं है, जो देश के मुस्लिमों की नागरिकता ले सकता हो.शाह ने कहा कि कश्मीर में स्थिति सामान्य है. कोई भी वहां जा सकता है, लेकिन कोई वहां भड़काने वाले भाषण करेगा तो सरकार को कदम उठाने पड़ेंगे. उन्होंने कहा कि अभी कोई भी वहां जाए हम सबको परमिशन दे रहे हैं. सिर्फ वहां के कुछ नेता कुछ प्रावधानों के तहत अभी नजरबंद हैं.



SC/ST मुद्दे पर कांग्रेस को ठहराया:-
अमित शाह ने कहा कि मैं पूरे देश की जनता और विशेषकर SC/ST समुदाय के अपने भाई-बहनों को बताना चाहता हूं कि ये जो प्रस्ताव सुप्रीम कोर्ट में चर्चा में आया, वो कांग्रेस की उत्तराखंड सरकार ने किया था, भाजपा ने नहीं. आरक्षण के लिए वो स्टैंड कांग्रेस की सरकार का था, भाजपा की सरकार का नहीं.


ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे पेज को अभी लाइक करे,कृपया पेज लाईक जरुर करे :- 




आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए दंगो पर की करवाई

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने उत्तर पूर्वी दिल्ली (North East Delhi) पर बयां देते हुए कहा है की  वहां ( North East Delhi) 4 उपमंडल (sub-divisions ) हैं। वहां आम तौर पर 4 एसडीएम (SDMs) होते थे, लेकिन अब हमने वहां 18 एसडीएम (SDMs) नियुक्त किए हैं। वे जनता के बीच जा रहे हैं और उनसे बात कर रहे हैं और  हम बड़े पैमाने पर भोजन वितरित कर रहे हैं। 



    ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-
      





    आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


    मानव अधिकार परिषद (Human Rights Council) के 43 वें सत्र(43rd Session) में भारत का कड़ा जवाब पकिस्तान को

    मानव अधिकार परिषद (Human Rights Council)  के 43 वें सत्र(43rd Session) में एजेंडा आइटम 2 के तहत भारत द्वारा प्रतिक्रिया  देने का अधिकार: भारत को बदनाम करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ( international community ) को पाकिस्तानी ( Pakistan') उन्मादपूर्ण प्रतिक्रियाओं से गुमराह नहीं किया जा सकता है। दुनिया को पाक के मानवाधिकारों के रिकॉर्ड के बारे में पता है और एक कड़ा नियंत्रण इसे छिपा नहीं सकता है.



      ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-
        





      आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


      सलमान खुर्शीद, कांग्रेस नेता का दिल्ली दंगो पर बरा बायन आया है , जाने क्या कहा उन्होंने .

      सलमान खुर्शीद, कांग्रेस: मुझे लगता है कि इस समय एक-दूसरे पर चिल्लाना और आग जोड़ना स्पष्ट रूप से जवाब नहीं है। पहली जिम्मेदारी मानवीय सहायता लाना और यह सुनिश्चित करना है कि जहां कहीं भी आग लगी है, उसे जल्दी और प्रभावी रूप से धोया जाना चाहिए।



        ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-
          





        आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 


        दिल्ली हिंसा पर सुनवाई टली,कपील मिश्रा पर बेबुनियाद आरोप, पढ़े पूरी खबर

        1. दिल्ली हिंसा मामले में दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई शुरू हो गई है.
        2. दिल्ली पुलिस ने जवाब दाखिल करने के लिए समय मांगा है.
        3. हाई कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को 13 अप्रैल तक का समय दे दिया है.
        4. हाई कोर्ट ने गृह मंत्रालय को दिल्ली हिंसा मामले में पक्षकार बनाए जाने की दलील को मंजूरी दी.
        5. केंद्र और दिल्ली पुलिस के वकील सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा भड़काऊ बयानों पर नहीं हो सकती करवाई.
        6. याचिकाकर्ता केवल तीन भड़काऊ बयानों को चुनकर कार्रवाई की मांग नहीं कर सकता.
        7. इन तीन हेट स्पीच के अलावा कई और हेट स्पीच है, जिसको लेकर शिकायत दर्ज कराई गई.
        8. हम हिंसा को नियंत्रित करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं : तुषार मेहता.
        9. केंद्र को पक्षकार बनाया जाए या नहीं ये कोर्ट को तय करना है, याचिकाकर्ता को नहीं : तुषार मेहता.
        10. कल तक हमने 11 और आज 37 एफआईआर दर्ज किया. कुल 48 एफआईआर दर्ज किए गए है : तुषार मेहता.


          दिल्ली  हिंसा मामले में दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई  शुरू हो गई है:-
          दिल्ली( Delhi)  हिंसा मामले में दिल्ली हाईकोर्ट(Delhi High Court) में सुनवाई शुरू हो गई है. दिल्ली पुलिस(Delhi Police) ने कोर्ट में अपना जवाब दाखिल करने के लिए समय मांगा है. इस पर हाई कोर्ट ने 13 अप्रैल तक का समय दे दिया है. तब तक केंद्र सरकार(central government) को भड़काऊ भाषण पर रिपोर्ट सौंपनी होगी. अब मामले की अगली सुनवाई 13 अप्रैल को होगी. इसके साथ ही हाई कोर्ट(Delhi High Court) ने केंद्र सरकार यानी गृह मंत्रालय(Ministry of Home Affairs) को दिल्ली हिंसा मामले में पक्षकार बनाए जाने की दलील को मंजूरी दी.केंद्र और दिल्ली पुलिस के वकील सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता(Solicitor General Tushar Mehta) ने कहा कि कल कोर्ट ने आदेश जारी कर जवाब मांगा था कि जो भड़काऊ बयान दिए गए थे उनपर करवाई की जाए, जबकि ये बयान 1-2 महीने पहले दी गई. याचिकाकर्ता(The petitioner ) केवल तीन भड़काऊ बयानों को चुनकर कार्रवाई की मांग नहीं कर सकता.

          हम हिंसा को नियंत्रित करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं : तुषार मेहता :-
          सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता(Solicitor General Tushar Mehta) ने कहा कि हमारे पास इन तीन हेट स्पीच के अलावा कई और हेट स्पीच( hate speech) है, जिसको लेकर शिकायत दर्ज कराई गई. याचिकाकर्ता(The petitioner) ने चुनिंदा सिर्फ तीन वीडियो का हवाला दिया है. एक जनहित याचिका में ऐसा नहीं होता. केंद्र (Center) को पक्षकार बनाया जाए या नहीं ये कोर्ट(court ) को तय करना है, याचिकाकर्ता(The petitioner) को नहीं. हम हिंसा को नियंत्रित करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं.केंद्र की इस दलील पर याचिकाकर्ता की ओर से बोले वकील कोलिन गोंजाल्विश(Colin Gonzalvish) ने कहा कि सबसे पहले आज ही सभी के खिलाफ एफआईआर(FIRs ) दर्ज हों, फिर फटाफट गिरफ्तारी भी हो..


          हमारे पास कई और क्लिप्स:-
          तुषार मेहता(Tusshar Mehta) ने कहा कि मौजूदा माहौल इस बात के लिए उपयुक्त नहीं है कि हम चुनिंदा तरीके से उन्हीं तीन वीडियो ( बीजेपी नेताओं कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा की स्पीच) (Speeches by BJP leaders Kapil Mishra, Anurag Thakur and Pravesh Verma) को देखे. इस पर चीफ जस्टिस डीएन पटेल(Chief Justice DN Patel) ने पूछा कि 11 एफआईआर दर्ज की गई हैं ? जवाब देते हुए सॉलीसिटर जनरल तुषार मेहता(Solicitor General Tushar Mehta ) ने कहा कि कल तक हमने 11 और आज 37 एफआईआर दर्ज किया. कुल 48 एफआईआर दर्ज किए गए है. याचिकाकर्ता इस पर एफआईआर चाहता है कि कपिल मिश्रा( Kapil Mishra ) ने ऐसा किया या वारिस पठान ने ऐसा किया. मौत या आगजनी या लूटपाट होने पर हमें एफआईआर(FIR) दर्ज करनी होती है. अन्य मुद्दों में समय लगता है.


          ऐसी तमाम खबर पढ़ने और वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:-

            





          आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे।