This is default featured slide 1 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 2 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 3 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 4 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 5 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

Showing posts with label GIRIRAJ SINGH. Show all posts
Showing posts with label GIRIRAJ SINGH. Show all posts

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को दी कड़ी चेतावनी पढ़े पूरी रिपोर्ट.

मुख्य  बिंदु :-
  • बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को चेताया.
  • गिरिराज सिंह के बयानों  पर नाराजगी जताई.
  • बेवजह की बयानबाजी से बचने की सलाह दी.
  • हाल ही में गिरिराज सिंह ने देवबंद को आतंक की गंगोत्री कहा था.
  • पार्टी को लगता है कि दिल्ली में हार का कारण उसकी बयानबाजी रही थी.
  • दिल्ली चुनाव में हार के कारण पार्टी कर रही है डैमेज कंट्रोल



बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को चेताया:-
बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को तलब किया है. सूत्रों के मुताबिक, जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को बेवजह बयानबाजी से बचने को कहा है. उन्होंने गिरिराज सिंह के बयानों पर नाराजगी जताई. हाल ही में गिरिराज सिंह ने देवबंद को लेकर विवादित बयान दिया था. उन्होंने देवबंद को 'आतंक की गंगोत्री' कहा था. दरअसल, बीते मंगलवार को गिरिराज सिंह सहारनपुर पहुंचे थे. यहां पर उन्होंने मंच से संबोधित करते हुए कहा कि बड़े आतंकवादी सब यहीं से निकले हैं, फिर वो चाहे हाफिज सईद ही क्यों न हो.


नागरिकता कानून पर गिरिराज सिंह ने  दिए थे तीखे बयान :-
नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर निशाना साधते हुए गिरिराज सिंह ने कहा था, "यह सीएए के खिलाफ नहीं बल्कि भारत के खिलाफ हैं क्योंकि अगर CAA के खिलाफ होता तो, शाहीनबाग से शरजिल इमाम की ये आवाज नहीं निकलती कि हम भारत को असाम से काट देंगे और भारत को कमजोर करने का काम करेंगे. इतना ही नहीं भारत में इस्लामिक राष्ट्र बना देने तक की बात कह डाली. शाहीन बाग से शरजिल इमाम यह नहीं बोलता कि हमारी कौम से जो टकराया है वह बर्बाद हो गया है. वहां से अफजल गुरू और याकूब मेमन के नारे नहीं लगते. इससे साफ जाहिर हो रहा है कि बच्चों और औरतों में जहर भरा जा रहा है."


बीजेपी कर रही है डैमेज कंट्रोल:-
विवाद बढ़ने पर उन्होंने कहा था, "मेरा बयान सही है और यदि किसी को बयान से दिक्कत है तो वह यूपी पुलिस से उस सूची के बारे में पूछ सकता है कि कितने लोग आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त हैं."  दिल्ली चुनाव में भी बीजेपी पार्टी के नेताओं ने विवादित बयान दिए थे जिसका नुकसान पार्टी को उठाना पड़ा. अब पार्टी डैमेज कंट्रोल में जुट गई है.


ऐसी तमाम खबर पढ़ने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे                                                            
इस खबर को यूट्यूब पर वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब करे। 




फेसबुक पर अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लिखे करे। 
                 


आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 



बिहार: 2020 विधानसभा चुनावों में अगर बीजेपी बनी सबसे बड़ी पार्टी तो ये बन सकते हैं अगले CM.




हाल ही में सिंह ने नीतीश कुमार और लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) प्रमुख व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को इफ्तार पार्टी का आयोजन करने को लेकर निशाने पर लिया था. ऐसे में अगर अगले साल विधानसभा चुनाव में एनडीए में सबसे ज्यादा सीटें बीजेपी को आती हैं तो संभवत: बीजेपी मुख्यमंत्री पद पर अपनी दावेदारी ठोक सकती है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी औऱ गृह मंत्री अमित शाह के करीबी गिरिराज सिंह का नाम आगे कर सकती है. बता दें कि गिरिराज सिंह ने 30 मई को कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली और शुक्रवार को नए मंत्रिमंडल में मंत्रालयों के हुए बंटवारे में उन्हें पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्रालय का प्रभार सौंपा गया था. गिरिराज सिंह ने बेगूसराय लोकसभा सीट पर अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी और सीपीआई उम्मीदवार कन्हैया कुमार को 4 लाख से अधिक मतों के अंतर से पराजित किया था.





बिहार से उठी आवाज हमारा नेता कैसा हो गिरिराज सिंह जैसा हो, बढ़ी नीतीश की मुश्किलें !




मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री और अपने बयानों के कारण सुर्खियों में रहने वाले गिरिराज सिंह को बिहार का मुख्यमंत्री बनाने की मांग उठी है. ये मांग भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कार्यकर्ता और गिरिराज के समर्थकों ने रवि

वार को की. गिरिराज के सैकड़ों समर्थकों ने नारा लगाया कि ऐसा ही हो सीएम हमारा और अगला मुख्यमंत्री कैसा हो, गिरिराज सिंह जैसा हो. गिरिराज के समर्थन में ये नारे तब लगे जब वह लोकसभा चुनाव जीतने के बाद पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र बेगूसराय पहुंचे.




पार्टी के एक नेता ने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ता और समर्थक गिरिराज को बिहार का अगला मुख्यमंत्री बनते देखना चाहते हैं. बीजेपी कार्यकर्ता और गिरिराज के समर्थकों की ये मांग वर्तमान मुख्यमंत्री और जनता दल-यूनाइटेड (जेडीयू) के अध्यक्ष नीतीश कुमार के लिए अगले साल होने वाले राज्य विधानसभा चुनावों से मुश्किलें बढ़ाने वाली है. 




गिरिराज सिंह ने हाल ही में नीतीश कुमार, लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान पर इफ्तार पार्टी आयोजित करने के लिए निशाना साधा था. बता दें कि नीतीश कुमार की जेडीयू और पासवान की एलजेपी बीजेपी की सहयोगी पार्टियां हैं.





आजम खान का राम मंदिर को लेकर आया घटिया बयान.

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आइडिया में, दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं आजम खान के बारे में जिन्होंने अयोध्या श्री राम मंदिर को लेकर एक बहुत ही घटिया बयान दिया है जिसको जानकर शायद आप आग बबूला हो सकते हैं.

आजम खान का राम मंदिर को लेकर आया घटिया बयान.

क्या है मामला :
जी हां दोस्तों आपने सही सुना आजम खान ने गिरिराज सिंह को जवाब देते हुए अयोध्या श्री राम मंदिर पर एक बहुत ही घटिया बयान दिया है, आपको बता दे कि गिरिराज सिंह ने अयोध्या श्री राम मंदिर के पक्ष में कहा था कि मुसलमान भी राम मंदिर बनाने में अपना सहयोग दें लेकिन आजम खान को यह बात समझ में नहीं आई और उन्होंने एक घटिया बयान देते हुए कहा कि, जिन लोगों ने 1992 में बाबरी मस्जिद गिराने में बहादुरी दिखाई थी तो ऐसे लोगों ने बाबर के समय भी यही बहादुरी क्यों नहीं दिखाई.


आजम खान ने मोदी जी पर भी साधा निशाना :
रामपुर में आजम खान ने इस मुद्दे के सहारे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी पर निशाना साधते हुए कहा कि, मोदी जी की फौज के लोगों को जो ट्रेनिंग दी गई है उस पर उन्होंने अमल करना शुरू कर दिया है, मैं पूछना चाहता हूं कि इन लोगों ने जो बहादुरी 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में दिखाई थी वही मरदानी की उस समय दिखाई होती जिस समय बाबर मस्जिद बनवा रहा था तो मस्जिद बनती ही नहीं.आजम खान ने कहा सवाल सिर्फ इतना है कि यह मर्दानगी उस वक्त कहां थी जो आज दिखा रहे हैं.


शायद आजम खान के पूर्वज नामर्द थे :
भारत आईडिया आजम खान को बताना चाहेगा कि, जिस मर्दानगी कि वह बात कर रहे है, वह मर्दानगी शायद उनके पूर्वजों में नहीं थी इसीलिए बाबर ने मंदिर तोड़ मस्जिद का निर्माण किया और मैं ऐसा इसलिए बोल रहा हूं क्योंकि आप सबको पता है भारत में जितने भी मुसलमान हैं उनके पूर्वज हिंदू ही थे और उन्हीं डरपोक लोगो की वजह से शायद बाबर ने इतनी घटिया हरकत की और राम मंदिर तोड़ो मस्जिद का निर्माण किया.


संपादक विशाल कुमार सिंह

भारत के मुस्लिम राम के वंशज, मंदिर का विरोध ना करें.



नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आइडिया में तो दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं गिरिराज सिंह के बारे में जिन्होंने यह कहा है कि भारत के मुस्लिम राम के वंशज हैं तो मुस्लिम मंदिर का विरोध न करें.

भारत के मुस्लिम राम के वंशज, मंदिर का विरोध ना करें.


क्या है मामला:
जी हां दोस्तों आपने सही सुना यह बयान गिरिराज सिंह ने दिया है, जैसा कि आप सब को पता है कि, अपनी बयानों की वजह से गिरिराज सिंह हमेशा सुर्खियों में रहते हैं. रविवार को भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक बयान दिया जिस पर अब विवाद खड़ा हो गया है दरअसल गिरिराज जी ने कहा की भारत में जितने भी मुसलमान हैं वह सभी प्रभु श्री राम के वंशज हैं ना कि मुगलों के, सो मुसलमान मंदिर का विरोध ना करें.




उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं गिरिराज सिंह :
गिरिराज सिंह अभी उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं, शो उत्तर प्रदेश के बागपत में विराज सिंह ने कहा कि मुस्लिम लोग राम मंदिर का विरोध ना करें, जो राम मंदिर का विरोध कर रहे हैं वह भी समर्थन में आ जाए वरना उनसे हिंदू नाराज हो जाएंगे और मुस्लिमों से नफरत करने लगेंगे और अगर यह नफरत ज्वाला में बदल गई तो मुस्लिम सोचे फिर क्या होगा.




जनसंख्या पर क्या कहा गिरिराज सिंह ने :
गिरिराज सिंह ने कहा कि राम मंदिर जरूर बनना चाहिए, राम मंदिर नहीं बना तो यह लाइलाज हो जाएगा.आपको बता दें कि उनकी राजसी जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के बैनर तले आयोजित जनसंख्या नियंत्रण कानून रैली को संबोधित करने पहुंचे थे. जनसंख्या पर बात करते हुए गिरिराज सिंह ने कहा की हिंदुओं की आबादी लगातार कम हो रही है और जहां हिंदुओं की आबादी कम हो रही है वहां उनकी आवाज दबा दिया जाता है.


धर्म के लिए पार्टी भी छोड़ सकता हूं :
गिरिराज सिंह की गर्जन यहीं नहीं रुकी, आगे उन्होंने कहा मैं सनातन धर्म के लिए भाजपा मंत्री पद व सांसद ही छोड़ सकता हूं उनकी मेरा धर्म ही मेरे लिए सर्वोपरि है.


संपादक : विशाल कुमार सिंह

राहुल गाँधी से जुड़ी वो दस बरी बातें जो आज सदन में घटी




1. राहुल गाँधी ने सुरु कर दिया चिपको आन्दोलन : राजनाथ सिंह 

2. राहुल गाँधी ने अपने भाषण के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाया लेकिन उसके बाद अपने साथी को आंख            मार कर मर्यादा तोरी। 

3. सुमित्रा महाजन ने राहुल गाँधी पर की टिपण्णी कहा मर्यादा का राहुल गाँधी उलंघन ना करे। 

4. प्रधानमंत्री का मजाक बनाने के फेर में खुद का मजाक बना लिया राहुल गाँधी ने देश की जनता के सामने 

5. राहुल गाँधी ने सदन में भाषण के दौरान खुद को पप्पू बताया। 

6. राहुल गाँधी ने ये माना की बीजेपी, आरएसएस और मोदी जी ने हिन्दुवाद का मतलब सिखाया। 

7. राहुल गाँधी की भाषण के दौरान  जुबान कहना  जबभी बहार जाते है और कह गए मोदी जी जभी बार जाते है। 

8. राहुल गाँधी ने कहा की नरेंद्र मोदी जी मेरी बातो पर मुझ से आंख भी नहीं मिला सकते इस्पे मोदी जी खिखिला कर हस          परे

9. राहुल गाँधी कुल 38 मिनट तक बोले जिसमे उन्होंने सरकार पर काफी आरोप भी लगाये। 

10. अविश्वाश प्रस्ताव से पहले गिरिराज सिंह ने राहुल गाँधी के लिए ट्वीट किया और कहा की भूकंप के लिए तैयार हो              जाइये  जिसके बाद ये ट्वीट काफी बार रीट्वीट किया गया 

सम्पादक : विशाल कुमार सिंह
भारत आईडिया से जुड़े :
अगर आपके पास कोई खबर हो तो हमें bharatidea2018@gmail.com पर भेजे या आप हमें व्हास्स्प भी कर सकते है 9591187384 .
आप भारत आईडिया की खबर youtube पर भी पा सकते है।
आप भारत आईडिया को फेसबुक पेज  पर भी फॉलो कर सकते है।
किशान आंदोलन के दौरान किशानो ने गधे को दूध से नहलाया