Engहिंदी

Get App

हम राजनीती एवं इतिहास का एक अभूतपूर्व मिश्रण हैं.हम अपने धर्म की ऐतिहासिक तर्क-वितर्क की परंपरा को परिपुष्ट रखना चाहते हैं.हम विविध क्षेत्रों,व्यवसायों,सोंच और विचारों से हो सकते हैं,किन्तु अपनी संस्कृति की रक्षा,प्रवर्तन एवं कृतार्थ हेतु हमारा लगन और उत्साह हमें एकजुट बनाये रखता है.हम आपके विचारों के प्रतिबिंब हैं,आपकी अभिव्यक्ति के स्वर हैं,हम आपको निमंत्रित करते हैं,अपने मंच 'BharatIdea' पर,सारे संसार तक अपना निनाद पहुंचायें.

पाकिस्तान को जोरदार झटका देने की तैयारी में पीएम मोदी, एयर रूट बदलने के बाद अब उठाया यह कदम




नमस्कार दोस्तों आप सबका स्वागत है भारत आइडिया के इस  नए संस्करण के समाचार लेख में। भारत आइडिया के पाठकों आज इस लेख में हम पाकिस्तान के बारे ने बात करने वाले है जिसमें पाकिस्तान को जोरदार झटका देने की तैयारी में पीएम मोदी, एयर रूट बदलने के बाद अब उठा सकते है ये कदम .

समाचार पढ़ने से पहले एक गुजारिस है, हमारे फेसबुक पेज को  लाइक कर हमारे साथ जुड़े। 



यात्रा के लिए अलग रूट  तय किया 
शंघाई सहयोग संगठन (SCO) शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक पहुंचे हैं। एयरपोर्ट पर पीएम का भव्य स्वागत हुआ। इस यात्रा से पहले पीएम मोदी पाकिस्तान एयर स्पेस से होकर गुजरने वाले थे, हालांकि आखिरी समय में उनकी यात्रा के लिए अलग तय किया गया। इस रिपोर्ट में जानते हैं कि आखिर पीएम ने यात्रा के लिए अलग रूट क्यों चुना और वह किस रास्ते बिश्केक पहुंचे।

इस रास्ते बिश्केक पहुंचे पीएम मोदी
प्रधानमंत्री मोदी ने अपने गंतव्य के लिए तुर्किमेनिस्तान, उज्बेकिस्तान, तजाकिस्तान होकर गुजरने वाले रास्ते को चुना। इस तरह पीएम के विमान को पाकिस्तानी हवाई में घुसने की जरूरत नहीं पड़ी। बता दें कि इससे पहले भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान से पीएम मोदी और विदेश मंत्री के लिए हवाई मार्ग खोलने का अनुरोध किया था। पाकिस्तान ने भी पीएम मोदी के विमान को पाक वायु सीमा से होकर गुजरने की इजाजत दे दी थी। लेकिन आखिरी पलों में विदेश मंत्रालय ने बताया कि पीएम पाक से होकर नहीं गुजरेंगे। विदेश मंत्रालय ने कहा था कि पीएम की यात्रा के लिए पहले से ही दो रूटों पर विचार किया जा रहा था और हर पहलू को ध्यान में रखते हुए सरकार ने फैसला किया किया कि वीवीआईपी विमान पाकिस्तान के बजाय इस रास्ते से गुजरेगा।




इस कारण लिया गया फैसला
भारत के इस फैसले पर भले ही कोई सीधा बयान सामने न आया हो, लेकिन अंदाजा लगाया जा रहा है कि ऐसा पुलवामा हमले और बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद दोनों देशों के रिश्तों में जारी तनाव के मद्देनजर किया गया है। बता दें कि जब भारत ने पाक से हवाई सीमा में यात्रा के लिए इजाजत का अनुरोध किया था, उस वक्त सोशल मीडिया पर इसका जमकर विरोध हुआ था।


सिर्फ यहां हो सकता है पीएम मोदी-इमरान का आमना-सामना
यही नहीं, पीएम की दो दिवसीय यात्रा के दौरान भी पाकिस्तानी पीएम इमरान खान से मुलाकात की कोई योजना नहीं है। इसके साथ ही पीएम ने बिश्केक में भी यह साफ किया कि अभी पाकिस्तान से बातचीत का माहौल नहीं है। पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान ने आतंकियों पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं की है। इसलिए अभी पाक से बातचीत संभव नहीं। हालांकि, गुरुवार शाम को किर्गिस्तान की ओर से आयोजित किए जा रहे डिनर के दौरान दोनों नेताओं का आमना-सामना हो सकता है। इसके अलावा दोनों के बीच कुछ पलों की अनौपचारिक मुलाकात भी हो सकता है, जिसकी संभावना भारतीय विदेश मंत्रालय ने पहले ही जताई थी।



आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 



Breaking News
Loading...
Scroll To Top