बेवकूफ पाकिस्तान ने अपने घायल पायलट को भारत का समझा, अब हो रही है जग हसाई

26 फरवरी को सूरज उगने से पहले भारतीय वायुसेना ने जब पाकिस्तान की वायु-सीमा में जाकर आतंक के चिरागों को बुझाने का काम किया तो पाकिस्तान ने ...



26 फरवरी को सूरज उगने से पहले भारतीय वायुसेना ने जब पाकिस्तान की वायु-सीमा में जाकर आतंक के चिरागों को बुझाने का काम किया तो पाकिस्तान ने बौखलाहट में कोई नुकसान न होने का बहाना बनाया. इसके बाद जब 27 फरवरी की सुबह पाकिस्तान की वायुसेना ने भारतीय सीमा में आकर आतंकियों की मौत का बदला सेना से लेने का दुस्साहस किया तो इंडियन एयरफोर्स ने उसके मंसूबों पर न सिर्फ पानी फेर दिया, बल्कि उसके एक फाइटर विमान को भी ध्वस्त कर दिया.


भारत की इस कार्रवाई पर पाकिस्तान ने वही पुराना राग अलापा, और कह दिया कि हमारा कोई विमान नहीं गिराया गया. लेकिन पायलट पर पाकिस्तान के दावों ने उसके अपने ही झूठ ने गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं, जिससे वह अपने ही जाल में फंसता नजर आया.




पाकिस्तान जो लगातार दावा कर रहा था कि उसने भारत के दो पायलटों को अपनी हिरासत में लिया है दरअसल उसमें एक घायल पायलट उसका ही था, जिसे वह अस्पताल में भर्ती करने का दावा कर रहा था. यही कारण रहा कि अपने बयान के कुछ ही घंटे बाद पाकिस्तान को सफाई जारी करनी पड़ी कि भारत का सिर्फ एक ही कमांडर हमारे हिरासत में है.

हमारे फेसबुक पेज को जरूर लाइक करे। 

INSTALL OUR APP FOR 60 WORDS NEWS