Engहिंदी

Get App

हम राजनीती एवं इतिहास का एक अभूतपूर्व मिश्रण हैं.हम अपने धर्म की ऐतिहासिक तर्क-वितर्क की परंपरा को परिपुष्ट रखना चाहते हैं.हम विविध क्षेत्रों,व्यवसायों,सोंच और विचारों से हो सकते हैं,किन्तु अपनी संस्कृति की रक्षा,प्रवर्तन एवं कृतार्थ हेतु हमारा लगन और उत्साह हमें एकजुट बनाये रखता है.हम आपके विचारों के प्रतिबिंब हैं,आपकी अभिव्यक्ति के स्वर हैं,हम आपको निमंत्रित करते हैं,अपने मंच 'BharatIdea' पर,सारे संसार तक अपना निनाद पहुंचायें.

हिन्दू पुत्र संगठन का एक और साहसिक कार्य, अवैध तरीके से बन रहे चर्च के निर्माण को रोका :

नमस्कार दोस्तों आज हम आपके सामने एक ऐसी खबर लेकर आये है, जो शायद आपको प्रेरित करे की अगर आपके छेत्र में भी कोई धर्म विरोधी कार्य हो रहा है तो उसको कैसे रोक सके। 

आज हम बात करने जा रहे है हिन्दू पुत्र संगठन के बारे में जो की एक उभरता हुआ संगठन है भारतवर्ष में और आये दिन हिन्दू हीत में इनके कार्य इनको एक बरी पहचान दिला रहे है। आज हिन्दू पुत्र संगठन के युवा कार्यकर्ताओ ने शेखपुरा पटना में स्थित इंद्रा गाँधी इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस में अवैध तरीके से बन रहे चर्च के निर्माण कार्य को रोका और वहाँ पर भगवा ध्वज फहराया।

क्या है पूरा मामला 
मयंक जी से हमारी बात हुई जो की हिन्दू पुत्र संगठन के रास्टीय उपाध्यछ है, मयंक जी ने के अनुसार इस मुहीम में हिन्दू पुत्र संगठन के अलावा बजरंग दल और युवा सनातन सेना ने भी अपना योगदान दिया।


भगवा ध्वज फहराते हुए हिन्दू पुत्र कार्यकर्ता 

मयंक जी ने बताया की सर्वप्रथम सुशील मोदी जोकी बिहार के उप-मुख्यमंत्री है  तथा मंगल पांडेय जो की बिहार के राज्य स्वास्थ्य मंत्री है, इन दोनों के घर का शांतिपूर्ण तरीके से हिन्दू पुत्रो द्वारा घेराव किया गया और अवैध तरीके से चर्च के कार्य को रोकने की मांग की गयी। इसके बाद शांतिपूर्ण तरीके से हिन्दू वीर पुत्रो का जुलुश,  इंद्रा गाँधी इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस के परिसर में पहुंची और वहाँ चर्च के निर्माण कार्य को रोका और वहाँ सनातन धर्म में गुरु की उपाधि रखने वाले भगवा ध्वज को फहराया।


विरोध प्रदर्शन की तश्वीर 

क्या है इनकी मांग 
इनकी मांग है की देश भर में अवैध तरीके से चर्चो का निर्माण कर वहाँ धर्म परिवर्तन का गन्दा खेल खेला जाता है, लेकिन चाणक्य की धरती बिहार में हिन्दू पुत्र संगठन ऐसा नहीं होने देगी और साथ ही साथ इनके संगठन द्वारा ज्ञापन भी सौप दिया गया है की चर्च की जगह मन्दिर के निर्माण की अनुमति दी जाये।

ईसाइयो की आबादी और चर्चो की संख्या
आपको जानकर हैरानी होगी की पुरे भारत वर्ष में तक़रीबन 2 करोड़ के आसपास चर्च है और आंकड़ों के लिहाज से हम देखे तो ये संख्या ब्रिटैन से भी ज्यादा है।अब जो मै बताने जा रहा हूँ वो जानकर आप शायद हिल जाये, 2011 की गणना के अनुसार इसाइओ की आबादी तक़रीबन 2 करोड़ 70 लैख थी और इनपे चर्च 2 करोड़ यानि तक़रीबन तक़रीबन हर एक सख्स पर 1 चर्च है।

सम्पादक : विशाल कुमार सिंह
भारत आईडिया से जुड़े :
अगर आपके पास कोई खबर हो तो हमें bharatidea2018@gmail.com पर भेजे या आप हमें व्हास्स्प भी कर सकते है 9591187384 .
आप भारत आईडिया की खबर youtube पर भी पा सकते है।
आप भारत आईडिया को फेसबुक पेज  पर भी फॉलो कर सकते है।

  
Breaking News
Loading...
Scroll To Top