This is default featured slide 1 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 2 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 3 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 4 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

This is default featured slide 5 title

Go to Blogger edit html and find these sentences.Now replace these sentences with your own descriptions.

Showing posts with label TEJPRATAP YADAV. Show all posts
Showing posts with label TEJPRATAP YADAV. Show all posts

तेजप्रताप यादव का दावा बिहार के असली लालू वही है, कोई माई का लाल डाल के दिखाए जेल में.

मुख्य  बिंदु :-
  1. तेजप्रताप यादव का दावा  बिहार के असली लालू वही है.
  2. पार्टी की कमान अभी तेजश्वी यादव के हाथों में है.
  3. तेजप्रताप ने तेजश्वी यादव को कहा घबराओ  मत तुम भी असली लालू हो.
  4. तेजप्रताप ने तेजश्वी के लिए खून का एक-एक कतरा बहाने की बात कही.
  5. तेजप्रताप ने अपने  विरोधियों को भी ललकारा और उन्हें खुली चुनौती दी गिरफ्तार करने के लिए. 
  6. तेजप्रताप ने सिर्फ अपने पापा लालू यादव और जगदानन्द अंकल से डरने की बात कही.
  7. तेजप्रताप के समर्थकों पर  भड़के जगदानन्द बाबू.



    तेजप्रताप यादव का दावा  बिहार के असली लालू वही है :-
    राजद सुप्रीम लालू प्रसाद यादव  की गैरहाजिरी में भले ही पार्टी की कमान तेजस्वी यादव (Tejashvi Yadav) के हाथों में है, पार्टी भले ही तेजस्वी को अपना भावी मुख्यमंत्री मान रही हो, लेकिन तेजप्रताप यादव का दावा है कि बिहार का असली लालू वही हैं. तेजप्रताप ने आरजेडी की पटना में हुई रैली में यह कहकर सबको हैरत में डाल दिया. खुद तेजस्वी भी एक पल के लिए सन्न रह गए थे, तभी तेजप्रताप ने छोटे भाई की ओर देखते हुए कहा कि अर्जुन आप घबराओ मत. आप भी असली लालू हैं. मैं कोई आपका मजाक नहीं उड़ा रहा, आपके लिए तो हम खून का एक-एक कतरा बहा देंगे.


    तेजप्रताप आरजेडी की रैली में पूरे फार्म में दिखे :-
    तेजप्रताप आरजेडी की रैली में पूरे फार्म में दिखे. तेजप्रताप यादव ने सबसे पहले तो अपने विरोधियों को ललकारा. उन्‍होंने कहा, 'जो लोग हमारे अर्जुन और मुझे जेल भेजने की तैयारी कर रहे हैं, अगर वो माई के लाल हैं तो हम दोनों भाइयों को गिरफ्तार करके दिखाएं. हम तो डंके की चोट पर रथ पर चढ़ेंगे और खुद तेजस्वी के रथ का सारथी भी बनेंगे. इसके बाद तेजप्रताप ने बताया कि वो आखिर किन दो लोगों से डरते हैं. तेजप्रताप अपने पापा लालू यादव से बहुत डरते हैं और उनका बहुत सम्मान भी करते हैं. उसके बाद तेजप्रताप को अपने जगदानन्द अंकल के अनुशासन से बहुत डर लगता है.


    तेजप्रताप के कार्यकर्ताओ पर भरके जगदानन्द सिंह :-
    आरजेडी की कमान जब से जगदानन्द सिंह के हाथों में आई है, तब से वह पार्टी को अनुशासित करने में जुटे हैं. कुछ हद तक जगदानन्द सिंह ने पार्टी में अनुशासन लाया भी है, लेकिन आरजेडी की रैली में तेज़-तेजस्वी के समर्थकों ने पार्टी के अनुशासन की धज्जियां उड़ा दी. फिर जो जगदानन्द सिंह भड़के, उन्होंने पार्टी के समर्थकों को यहां तक कह दिया कि अगर आप इस तरह से अनुशासन तोड़ेंगे तो उन्हें मजबूरन सभा रोकनी पड़ेगी. जगदानन्द बाबू ने मंच के पास नारा लगा रहे आरजेडी समर्थकों को खूब खड़ी खोटी सुनाई. इतने पर तेजप्रताप यादव भी भड़क गए और अपने कुछ समर्थकों को मंच पर बुलाने के लिए जगदानन्द से अड़ गए. आखिरकार जगदानन्द सिंह को लालू के लाल के सामने झुकना ही पड़ा.

    ऐसी तमाम खबर पढ़ने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे                                                            
    इस खबर को यूट्यूब पर वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब करे। 




    फेसबुक पर अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लिखे करे। 
                     


    आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 



    तेजस्वी अज्ञातवास में, तेज प्रताप संभालेंगे कमान, राजभवन तक मार्च का ऐलान




    नमस्कार दोस्तों आप सबका स्वागत है भारत आइडिया के इस  नए संस्करण के समाचार लेख में। भारत आइडिया के पाठकों आज इस लेख में हम बात करेंगे तेजप्रताप के बारे में जिन्होने चमकी बुखार पर खुद कमान संभाली है ।

    समाचार पढ़ने से पहले एक गुजारिस है, हमारे फेसबुक पेज को  लाइक कर हमारे साथ जुड़े। 



    तेजस्वी यादव के अज्ञातवास में चले जाने के बाद उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव ने कमान संभाल ली है. तेजप्रताप यादव ने चमकी बुखार में सामने आई सरकारी अव्यवस्था के खिलाफ 23 जून को राजभवन तक मार्च करने का ऐलान किया है. जाहिर है इस मुद्दे को लेकर आरजेडी ने पुतला फूंकने के अलावा कोई विरोध नहीं जताया है. ऐसे में तेजस्वी ने तेज प्रताप के अनुपस्थिति में राजभवन तक मार्च करने का ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि यह मार्च आरजेडी छात्र करेंगे.

    बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने राज्य सरकार पर चमकी बुखार से निपटने में लापरवाही के गंभीर आरोप लगाए हैं. शुक्रवार को रांची जाने से पहले तेजप्रताप यादव ने कहा कि चमकी बुखार मामले में सरकार पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है और चमकी बुखार से निपटने के लिए राज्य सरकार द्वारा कोई कदम नहीं उठाए गए. उन्होंने कहा कि सरकार को संवेदनशील तरीके से इस तरह के बड़े मामले को देखना चाहिए. अभी तक जो चीजें सामने आई हैं, उसमें सरकार पूरी तरह फेल नजर आ रही है. बता दें, तेजप्रताप ने ऐलान किया था कि चमकी बुखार में फेल सरकारी व्यवस्था को लेकर आरजेडी छात्र 23 जून को राजभवन मार्च करेंगे.




    तेजस्वी यादव लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद से अज्ञातवास में हैं. तो वहीं लालू के बड़े बेटे विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत कर अपनी राजनीति चमकाने में लगे हैं. चाहे पार्टी के द्वारा आयोजित इफ्तार हो या फिर पार्टी का कार्यक्रम. पिता को जन्मदिवस पर बधाई देने का मौका हो या फिर चमकी बुखार पर बयान. सब की कमान तेजप्रताप ने थाम रखी है. इसी कड़ी में लालू प्रसाद यादव के बड़े लाल तेज प्रताप यादव अपने पिता से आशीर्वाद लेने रांची रवाना हो गए हैं.



    आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 



    10 कारतूस के साथ पकड़े गए एयरपोर्ट पर लालू के नेता.



    हमारे फेसबुक पेज को जरूर लाइक करे। 

    तेज प्रताप ने घर वापसी के लिए रखी ये शर्त.


    नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आइडिया में, दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव के बारे में जिन्होंने परिवार के सामने एक शर्त रखी है और उसी शर्त पर उन्होंने घर आने की बात कही है.

    तेज प्रताप ने घर वापसी के लिए रखी ये शर्त.

    क्या है मामला:
    राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव घर लौट सकते हैं, अगर उनकी बात मान ली जाए, अभी वे हरिद्वार में हैं. उन्‍होंने माना कि कृष्‍ण अर्जुन से नाराज नहीं हैं, लेकिन एक दुर्योधन है जो अर्जुन व कृष्‍ण के बीच में आ गया है.एक निजी चैनल से बातचीत में तेज प्रताप यादव ने कहा कि उनकी छोटी सी बात अगर माता-पिता मान लें तो वे घर लौट आएंगे, टेजप्रताप का कहना है कि मेरी बात मानने के लिए कोई तैयार नहीं है.तेज प्रताप ने कहा कि उन्‍होंने तलाक की जो अर्जी फाइल की है, उसपर परिवार साथ दे तभी हम घर लौट आएंगे .तेज प्रताप यादव ने यह भी साफ किया कि वे पत्‍नी ऐश्‍वर्या की मीठी-मीठी बातों में आने वाले नहीं हैं.


    क्या कहा तेज प्रताप ने:
    तेज प्रताप ने कहा कि परिवार में लड़ाई-झगड़े हद पार कर गए थे, वह (पत्‍नी) मेरे लिए गंदे शब्‍द बोलती थी.वो अपनी जिंदगी में मस्‍त रहे, मैं अपनी जिंदगी में मस्‍त रहूं. तेज प्रताप यादव ने कहा कि हमने सोच-समझकर तलाक का फैसला लिया है और यह अटल है.तेज प्रताप ने कहा कि वे परिवार के साथ हैं, लेकिन ऐश्‍वर्या के साथ रहना नहीं चाहते.उन्‍होंने घर में घुसे किसी विपिन नामक व्‍यक्ति के प्रति नाराजगी जताई तथा कहा कि वह उनके दोस्‍तों को बुलाकर सता रहा है,  यह बर्दाश्‍त से बाहर है.तेज प्रताप ने कहा कि पार्टी में भी गुंडे-मवाली घुस गए हैं, उन्‍हें भी बाहर करना चाहिए.उन्‍होंने कहा कि कुछ दुर्योधन लगे हुए हैं, लेकिन वे अपने अर्जुन (तेजस्‍वी) से दूर नहीं हैं. परिवार वालों से भी उनकी बात हो रही है, पिता लालू प्रसाद यादव से भी बात हुई है और वे ठीक हैं.


    तेजस्वी ने नहीं मनाया अपना जन्मदिन:
    तेज प्रताप फिलहाल वृंदावन में हैं, उन्‍होंने फोन कर तेजस्‍वी को जन्‍मदिन की बधाई दी है. तेजस्‍वी ने बड़े भाई को बहुत समझाया है, लेकिन वे चाहते हैं कि घरवाले पहले उनके तलाक की बात मान लें तब वे लौटेंगे.ऐश्वर्या से तलाक लेने की याचिका दायर करने के बाद सुर्खियों में आए तेज प्रताप यादव के बिना दिवाली का त्योहार तो सूना रहा ही उनके भाई तेजस्वी के जन्मदिन पर भी समर्थक इंतजार करते रहे.जन्मदिन पर उनके राजधानी पहुंचने के कयास समर्थक लगा रहे थे लेकिन पटना स्थित उनके आवास पर शुक्रवार को भी सन्नाटा पसरा रहा. हरिद्वार गए तेज प्रताप के घर न लौटने पर समर्थक निराश ही लौटे.


    तलाक की खबर को सही ठहराया तेज प्रताप ने.


    नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका भारत आइडिया में, दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं तेज प्रताप यादव के बारे में जिनके बारे में बीते दिन यह अफवाह उड़ी थी कि वह अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय को तलाक देने जा रहे हैं.

    तलाक की खबर को सही ठहराया तेज प्रताप ने.

    क्या है मामला:
    जी हां दोस्तों आपने सही सुना बीते दिन तेज प्रताप यादव के बारे में या खबर उड़ी थी कि वह अपनी पत्नी ऐश्वर्या  को तलाक देने जा रहे हैं जिसके बाद सोशल मीडिया पर उनके समर्थकों ने यह दावा किया था कि यह सिर्फ और सिर्फ एक अफवाह है लेकिन कोर्ट में अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने के लिए अर्जी दायर करने के बाद लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने शनिवार को मीडिया से बातचीत की, समाचार एजेंसी ए एन आई के अनुसार उन्होंने इस दौरान तलाक की अर्जी दायर करने की खबर को सही बताया है और कहा है कि मैंने कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी दाखिल की है क्योंकि मैं घुट घुट कर जी रहा था और घुट घुट कर जीने से कोई फायदा नहीं है.


    पिता से मिलने रांची जाएंगे तेज प्रताप:
    आप की जानकारी हेतु हम बता दे कि कोर्ट में तलाक की अर्जी देने के बाद आखिरकार शनिवार को तेज प्रताप यादव अपने पिता लालू यादव से मिलने के लिए रांची के लिए निकल चुके हैं. अभी तक मिल रही जानकारी के अनुसार दोनों के बीच आज मुलाकात हो सकती है और विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक तेज प्रताप के नाम से रांची के एक होटल में तीन कमरे बुक किए गए हैं और नियम के हिसाब से एक बार में 3 लोग लालू यादव से मुलाकात कर सकते हैं और मुलाकात करने वालों की सूची खुद लालू यादव तय करेंगे.


    तेज प्रताप को मनाने में जुटा पूरा परिवार:
    बीते दिन शुक्रवार देर शाम तेज प्रताप यादव ने सिविल कोर्ट में तलाक की याचिका दायर की थी, जिसमें तेज प्रताप यादव ने 13(1) (1A) हिंदू मैरिज एक्ट के तहत तलाक के लिए अर्जी दी है और मिल रही जानकारी के अनुसार कोर्ट ने तेज प्रताप यादव की तलाक की अर्जी मंजूर कर दी है. तलाक की अर्जी का केस नंबर 1208 है और कोर्ट ने इस अर्जी के लिए सुनवाई की तारीख 29 नवंबर तय की है.अर्जी देने के बाद तेज प्रताप यादव अपने माता पिता से मिलने के लिए रांची रवाना हुए थे लेकिन बार-बार परिवार से फोन आने के बाद उन्होंने रांची जाने का प्रोग्राम रद्द कर दिया था. आपको बता दें कि तेज प्रताप द्वारा तलाक की अर्जी देने के बाद उनकी पत्नी ऐश्वर्या ससुर चंद्रिका राय और ऐश्वर्या राय की मां राबड़ी देवी के आवास पर पहुंचे हैं और रात्रि 11:00 बजे तक वही रहे माना जा रहा है कि पूरा परिवार तेज प्रताप यादव को मनाने की कोशिश में जुटा हुआ है लेकिन तेज प्रताप अपने तलाक के फैसले पर अडिग हैं.


    संपादक विशाल कुमार सिंह.