Without Shiv Sena, the government won trust /शिवसेना के बिना सरकार ने भरोसा जीता

● विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव खारिज ● दोनों और से खूब चले सियासी तीर ● मोदी जी बोले अहंकार में लाए प्रस्ताव                          परिणाम ...


● विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव खारिज
● दोनों और से खूब चले सियासी तीर
● मोदी जी बोले अहंकार में लाए प्रस्ताव

                         परिणाम  और  मायने
                       
                          कुल संख्या(मत पड़े 
                                      ४५१
एनडीए+                                                    यूपीए+
३२५                                                            १२६

मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष की ओर से पेश अविश्वास प्रस्ताव शुक्रवार को १९९ वोटों के बड़े अंतर से गिर गया।
लोकसभा में एक ११ घंटे की की थी और नाटकीय बहस के बाद परिणाम सरकार के पक्ष में रहा।

अन्नाद्रमुक ने सरकार के पक्ष में मतदान किया । अविश्वास प्रस्ताव पर तीखी कटाक्ष करते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा कि वह यहां पर २०२४ में फिर से इसी तरह का अविश्वास प्रस्ताव लाने का आमंत्रण देते जा रहे हैं।

मोदी ने राहुल के सदन में नाटकीय रुप से गले मिलने पर भी कटाक्ष करते हुए कहा कि वह हैरान रह गए कि बिना चर्चा और वोटिंग के उन्हें उठाने के लिए कहा गया।
 मैं खड़ा भी हूं और ४ साल के कामकाज पर भी अड़ा हूं। यहां न कोई उठ सकता है ना बैठ सकता है ,प्रधानमंत्री ने अविश्वास प्रस्ताव को लेकर सवाल खड़ा किया है कि जब तैयारी ही नहीं थी तो क्यों लेकर आए।

संपादक:आशुतोष उपाध्याय

INSTALL OUR APP FOR 60 WORDS NEWS