महामृत्युंजय मन्त्र का जाप करने से मौत पर भी विजय पा सकते है कैसे ?

ॐ त्रयम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम , उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योमूर्छिय माSमृतात।  आप सब इस मन्त्र के बार में अवश्य जानते होंगे, ये म...



ॐ त्रयम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम , उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योमूर्छिय माSमृतात। 

MAHAMRITUNJAYMANT JAAP


आप सब इस मन्त्र के बार में अवश्य जानते होंगे, ये महामृत्युंजय मन्त्र है जिसका जाप करने से मनुष्य मौत पर भी विजय  सकता है।

आइए इस मन्त्र के बारे में जाने की, कितने बार इस मन्त्र को  आपकी कौन सी समस्या दूर हो सकती है। 

1. भये से छुटकारा पाने  के लिए :1100 बार जाप करे।

2. रोगो  मुक्ति पाने के लिए : 11000 बार जप करे।

3. पुत्र प्राप्ति के लिए : सबा लाख बार जाप करे।

4. उन्नति के लिए : सबा लाख बार जाप करे।

5. अकाल मृत्यु से बचने के लिए : सबा लाख बार जाप करे।

अभी सावन सुरु हो रहा है, भगवान शिव को याद करे उनकी पूजा अर्चना करे और इस मन्त्र का जितना संभव हो सके उतना जाप करे।



सम्पादक : विशाल कुमार सिंह
भारत आईडिया से जुड़े :
अगर आपके पास कोई खबर हो तो हमें bharatidea2018@gmail.com पर भेजे या आप हमें व्हास्स्प भी कर सकते है 9591187384 .
आप भारत आईडिया की खबर youtube पर भी पा सकते है।
आप भारत आईडिया को फेसबुक पेज  पर भी फॉलो कर सकते है।


INSTALL OUR APP FOR 60 WORDS NEWS