निर्भया गैंग रेप केस के आरोपी ने फिर से की आत्महत्या की कोशिश, इस बार पिन निगला, पढ़े रिपोर्ट

मुख्य  बिंदु :- निर्भया गैंग रेप  के दोषी विनय शर्मा  ने स्‍टेपल पिन निगलने की कोशिश की . जेल कर्मचारियों ने समय रहते उसे ऐसा करने से रोका. ...

मुख्य  बिंदु :-
  1. निर्भया गैंग रेप  के दोषी विनय शर्मा  ने स्‍टेपल पिन निगलने की कोशिश की .
  2. जेल कर्मचारियों ने समय रहते उसे ऐसा करने से रोका.
  3. दोषी विनय शर्मा का  हॉस्पिटल हॉस्पिटल में इलाज करवाया गया। 
  4. पहले भी विनय शर्मा ने  दीवार पर सिर मारकर खुद को घायल करने की कोशिश  की थी।
  5. धिकारियों ने बताया  कि डेथ वारंट जारी होने के बाद से विनय का व्यवहार हिंसक हो गया है.
  6. पुलिस ने विनय शर्मा और अक्षय ठाकुर के परिवार को मिलने की आखरी नोटिस भेजी 




विनय शर्मा ने फिर किया खुद को घायल :
निर्भया गैंग रेप और मर्डर  मामले के दोषी विनय शर्मा (Vinay Sharma) ने स्‍टेपल पिन निगलने की कोशिश की है. जेल कर्मचारियों ने समय रहते उसे ऐसा करने से रोका. इसके बाद तिहाड़ जेल के अधिकारी विनय को जेल हॉस्पिटल भी ले गए और उसका इलाज करवाया गया. आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही उसने दीवार पर सिर मारकर खुद को घायल करने की कोशिश की थी.


डेथ वारंट जारी होने के बाद से विनय का व्यवहार हिंसक :
जेल के अफसरों ने शनिवार को विनय शर्मा और अक्षय ठाकुर के परिवार को नोटिस भेजकर उन्हें आखिरी मुलाकात करने को कहा है.  मुकेश सिंह और पवन गुप्ता की अपने पारिवारिक सदस्यों से आखिरी मुलाकात 31 जनवरी को ही गई थी. तिहाड़ जेल के एक अधिकारी ने कहा कि उन्होंने अक्षय और विनय से पूछा कि वे किस दिन आखिरी मुलाकात करना चाहते हैं? अधिकारी ने बताया कि हर हफ्ते दो बार नियमित मुलाकात की सुविधा जारी है.अधिकारियों ने बताया है कि डेथ वारंट जारी होने के बाद से विनय का व्यवहार हिंसक हो गया है. जेल अथॉरिटीज ने बताया कि जेल में विनय की शारीरिक और मानसिक हालत स्थिर है. मामले में फांसी की सजा पाए चारों दोषियों पर चौबीसों घंटे निगरानी रखी जा रही है और सीसीटीवी के जरिए अधिकारी भी उनकी सतत निगरानी कर रहे हैं.


1 मार्च को दोषियों को होनी है  फांसी 
सूत्रों ने कहा कि चारों दोषी (मुकेश, अक्षय, विनय और पवन रोज) की तरह खाना खा रहे हैं. हालांकि, भोजन की मात्रा कम हो गई है. 1 मार्च को नया डेथ वॉरंट जारी होने के बाद विनय शर्मा के व्यवहार में बड़ा बदलाव देखा जा रहा है. पिछली बार दोषी के परिवार के तीन या उससे अधिक सदस्यों को मिलने की अनुमति दी गई थी.




ऐसी तमाम खबर पढ़ने के लिए हमारे एप्प को अभी इनस्टॉल करे                                                            

इस खबर को यूट्यूब पर वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब करे। 




फेसबुक पर अपडेट पाने के लिए हमारे पेज को लिखे करे। 
                 


आपकी इस समाचार पर क्या राय है,  हमें निचे टिपण्णी के जरिये जरूर बताये और इस खबर को शेयर जरूर करे। 



INSTALL OUR APP FOR 60 WORDS NEWS